About

स्वाबलंबन की चाहत प्रत्येक युवा को होती है। युवावस्था की शुरुआत होते ही उसमें आत्मनिर्भर बनने की चाहत गहराती है। किसी भी तरह से वह अपने पांव पर खड़ा होना चाहता है। लेकिन स्वाबलंबन की चाहत पूरी होना आज इतना  आसान नहीं है। सरकारी नौकरियां अब सिमटती जा रही है। स्थिति कुछ ऐसी हुई है कि योग्यता एवं प्रतिभा को नौकरी एवं रोजगार की गारंटी नहीं माना जा सकता।
रही बात स्वरोजगार की तो उसके लिए धन चाहिए और यह सुविधा सब के पास उपलब्ध नहीं है। सरकारी ऋण भी किन्हीं भाग्यशालियों को मिल पाता है। परन्तु जहां चाह वहां राह की कहावत यहाँ भी सच है।
Paisaplaza भारत की एक हिंदी वेबसाइट है जिसमें आपके लिए भरा पड़ा है जानकारी का खजाना। हमारी कोशिश है, आपकी भाषा में आपके लिए ऐसी सामग्री देने की जो आपके व्यवसाय को आगे बढ़ाने में मदद दे। इसलिए आप यहां पाएंगे नए भारत की बदलती आर्थिक तस्वीर की उपयोगी चर्चा। Paisaplaza के जरिये हम लाए हैं आपके लिए ऐसा मंच जिसके जरिये आप अपने व्यवसाय से संबंधित व्यक्ति से संपर्क कर अपने व्यवसाय को आगे बढ़ा सकेंगे।